Technology GK

How Many Flights Fly Per Day in The World | Impact | Resources | Alternatives | Technology GK

Last Updated on May 3, 2021 by GKQUESTIONBANK


एक दिन में कितने विमान पूरी दुनिया में उड़ते हैं?


दोस्तों क्या आप जानते है कि हर दिन कितने विमान पुरी दुनिया भर मैं उड़ान भरते हैं या फिर कितने विमान पुरे साल भर मैं उड़ान भरते हैं?

आज इसी रोचक सवाल का जवाब हम आपको GKQUESTIONBANK द्वारा Technology GK Series की इसी पोस्ट में देंगे।



दोस्तों साल 2000 के बाद से पूरी दुनिया में एयरलाइन्स इंडस्ट्री ने अपनी रफ़्तार बहुत तेजी से पकड़ी और हर साल इस क्षेत्र में काफी तेजी देखी गई है। आज के समय में हवाई जहाजों का इस्तेमाल सिर्फ लोगो को एक जगह से दूसरी जगह लाना ले जाना ही नहीं होता बल्कि माल ढुलाई के लिए भी व्यापक तौर पर इनका इस्तेमाल होता है। मुख्य रूप से हम सभी फ्लाइट्स को 4 भागो में बांट सकते हैं:

(1) Passenger Flights.
(2) Commercial Flights.
(3) VIP Flights.
(4) Military Flights.

दोस्तों Statista नाम की जानी मानी वेबसाइट जो की 80,000 से भी ज्यादा टॉपिक्स पर अपनी स्टैटिक्स रिपोर्ट पब्लिश करती है उसने November 2020 में अपनी एक रिपोर्ट दी थी जिसके अनुसार साल 2004 में पूरी दुनिया में जहां 23.8 Million फ्लाइट मतलब 2 करोड़ 38 लाख फ्लाइट ने साल भर में उड़ान भरी थी वही 2019 में तक़रीबन 3 करोड़ 89 लाख फ्लाइट ने पूरी दुनिया में उड़ान भरी है।

2020 में कोरोना के चलते पूरी दुनिया में एक समय के लिए लगभग सभी फ्लाइट्स को बंद कर दिया गया था जिससे एयरलाइन्स बिज़नेस पर बहुत ही बुरा प्रभाव देखने को मिला था। अगर हम 2021 के अभी तक की (March-2021) रिपोर्ट को देखें जो की इस साइट पर Available है तो 2 करोड़ 22 लाख फ्लाइट अब तक उड़ान भर चुकी हैं। यानि की अब इस क्षेत्र ने अपनी रफ़्तार काफ़ी बढ़ा दी है।


How Many Flights Fly Per Day in World


दोस्तों एयरलाइन्स कम्पनीज आज के समय में जो भी Revenue पैदा करती है उनसे लाखो लोगो को रोजगार मिलता है और National/ International ट्रेवल इंडस्ट्री के लिए तो ये आज के समय में रीढ़ की हड्डी के समान है। Statista की रिपोर्ट के अनुसार 1 लाख से भी ज्यादा फ्लाइट हर रोज पूरी दुनिया में उड़ान भरते हैं। अगर पर्यावरण के नजरिए से देखें तो हर रोज लाखों टन ईंधन इसको चलाने में लगता है जिससे पूरी पृथ्वी के पर्यावरण को बहुत ज्यादा नुक्सान भी उठाना पड़ता है। हालाँकि इनका इस्तेमाल पूरी तरह बंद भी नहीं किया जा सकता।

अगर टेक्नोलॉजी की मदद ली जाए और नेचुरल फ्रेंडली ईंधन को या फिर बिजली से चलने वाले सोलर विमान में कंपनियां ज्यादा इन्वेस्ट करे और रिसर्च करे तो पर्यावरण को काफी हद तक दूषित होने से बचाया जा सकता है और ग्लोबल वार्मिंग में एयरलाइन्स इंडस्ट्रीज जो बढ़ावा दे रही हैं उसको बहुत कम किया जा सकता है।


How Many Flights Fly Per Day in World


ग्लोबल वार्मिंग की वजह से आये दिन ग्लेशियर पिघले की न्यूज़ आती रहती है। ग्लेशियर पिघलने की घटनाओं से समुद्र के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है जिससे मुख्य रूप से समुद्र के पास वाले इलाकों के डूबने का पूरा पूरा खतरा बना हुआ है। पृथ्वी के पर्यावरण के गर्म होने के साथ ही ग्लेशियर पिघलने की रफ़्तार तेज होती जा रही है।

अभी इसी साल अंटार्टिका में मुंबई शहर से 2 गुना आकर के Iceberg टूटने की खबर ने सबको चौका दिया था इसलिए कहीं न कहीं हम सबको इस बारे में सोचना चाहिए और सोलर एनर्जी को जरूर बढ़ावा देना चाहिए।



पूरी दुनिया में नेचुरल एनर्जी को बढ़ावा दे कर कार्बन उत्सर्जन जिसका बड़ा हिस्सा एयरलाइन्स से होता है उसको कम किया जा सकता है।


तो दोस्तों आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें नीचे Comment करके जरूर बताएं और अपने सभी दोस्तों के साथ WhatsApp पर इस Post को Share जरूर करें ताकि उनका General Knowledge भी बढ़ सके।

Read More Technology GK


 

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: This Content is protected !! Go to our Store at Instamojo.com/gkquestionbank for PDF Downloads.